BHARAT GK Whatsapp Group में जुड़े सिर्फ ₹20 प्रति माह में और पाएं GK के हर प्रश्न का उत्तर। ग्रुप में जुड़ने के लिए 9470054276 पर ₹20 का Paytm करें और इसी नंबर पर पेमेंट का स्क्रीनशॉट भेजें।

भूगोल : परिचय | Geography

भूगोल परिचय :

भूगोल (Geography) एक प्रगतिशील प्रगतिशील विज्ञान है। समय के साथ इसके स्वरूप अध्ययन क्षेत्र एवं उद्देश्य में भी परिवर्तन आया। भूगोल समस्त विज्ञान का सार है। प्रारंभिक अवस्था में भूगोल को नक्षत्रशास्त्र का भाग माना जाता था। नछत्रशास्त्र को विकसित करने का श्रेय युनानीयों को जाता है। इन्होंने भूगोल को व्यवस्थित रूप प्रदान किया।
map, topography, geography, planet, continents, earth, globe, world, terraqueo, asia
प्रारंभ में भूगोल पृथ्वी का वर्णन करने वाला माना जाता था। यूनान एवं रोम के निवासियों ने अनेक भौगोलिक वर्णन प्रस्तुत किए हैं। इनमें इरेटोस्थनीज, हिकेटियस, अरस्तु हेरोडोटस, हिपाकस, एनेक्जिमिंडर और टालिमि का प्रमुख स्थान है।
भूगोल शब्द का अंग्रेजी पर्याय Geography है जो ग्रीक भाषा का शब्द Geo (पृथ्वी) + Graphy (वर्णन) से बना है, यानी Geography का अर्थ पृथ्वी का अध्ययन है। 250 ईसा पूर्व में यूनानी विद्वान इरेटोस्थनीज ने सर्वप्रथम भूगोल के लिए Geographiea शब्द का प्रयोग किया था, जिसका वर्तमान स्वरूप Geography है।
इरेटोस्थनीज द्वारा लिखी गई पुस्तक Geographiea में गणितीय भूगोल का विकास किया गया था। इन्होंने ही भूगोल को व्यवस्थित रूप दिया इसीलिए इन्हें "व्यवस्थित भूगोल का जनक" माना जाता है। जबकि 'भूगोल का जनक (पिता) ' हिकेटियस को माना जाता है। इनकी महत्वपूर्ण कृति Ges-Periodos (जेस-पिरियोडस) है। इसमें भौगोलिक तत्वों का क्रमबद्ध वर्णन किया गया है।
हेरोडोटस ने अपनी पुस्तक 'हिस्टोरिका' में ऐतिहासिक घटनाओं को साथ भोगौलिक तत्वों का वर्णन किया है। इस हेतु हेरोडोटस के इतिहास के साथ 'ऐतिहासिक भूगोल का जनक' भी माना जाता है।
अरस्तु ने अपनी पुस्तक 'पॉलिटिक्स' में भौगोलिक तत्वों का वर्णन किया और विज्ञान सम्मत आधार को प्रस्तुत किया इसलिए इन्हें 'वैज्ञानिक भूगोल का जनक' माना जाता है।
थेल (Thale) ने गणित के आधार पर भूगोल को समझने का प्रयास किया। इसलिए थेल 'गणितीय भूगोल का जनक' माना जाता है।
कार्ल रिटर को 'क्षेत्रीय भूगोल' का जनक माना जाता है क्योंकि उन्होंने भू-मंडल के सभी लक्षणों और घटनाओं का बृहद रूप से वर्णन किया है।
'आधुनिक भूगोल का जनक' एलेग्जेंडर वान हंबोल्ट को माना जाता है।
'मानव भूगोल का जनक' ब्लॉश को माना जाता है।
आधुनिक खगोलीय भूगोल का पिता - कॉपरनिकस, न्यूटन जोहान्स कैपलर गैलीलियो।
'भौतिक भूगोल का पिता' पॉलीडोनियस को माना जाता है।
19वीं सदी में भूगोल को स्वतंत्र विषय के रूप में मान्यता मिली।
Father of Geography
Hecateous
Father of Geomorphology
Penck
Father of Mathematical Geography
Anaximender and Thale
Father of Phyto Geography
Theophrastus
Father of Rein Geography
Jean Brunches
Father of Cartography
Anaximender
Father of Climatology
Trewartha
Father of Population Geography
Trewartha
Father of History
Herodatus
Father of Anthrology
Pliny
Father of Geopolitcs
Carl Houshopper
Father of Human Geography
Ratzel


भूगोल की परिभाषा :

भूगोल पृथ्वी की झलक को स्वर्ग में देखने वाला अभामस विज्ञान है। ~ क्लेडियस टॉलमी
भूगोल एक ऐसा स्वतंत्र विषय है, जिसका उद्देश्य लोगों को भूमंडल, आकाशीय पिंडों, स्थल, महासागरों, जीव-जंतुओं, वनस्पति, फलो तथा भू-धरातल के क्षेत्र में देखी जाने वाली प्रत्येक वस्तु का ज्ञान प्राप्त कराना है। ~ स्ट्रेबो
भूगोल में पृथ्वी के उस भाग का अध्ययन किया जाता है, जो मानव के रहने का स्थान है। ~ आर्थर होम्स
भूगोल में पृथ्वी तल के विभिन्न क्षेत्रों का अध्ययन उनकी समग्र विशेषताओं के आधार पर किया जाता है। ~ वॉन रिचथोफेन
भूगोल व विज्ञान है जिसमें पृथ्वी को एक स्वतंत्र ग्रह के रूप में मान्यता देते हुए उसके समस्त लक्षणों घटनाओं एवं उसके अंतः संबंध का अध्ययन किया जाता है। ~ कार्ल रिटर
भूगोल भूतल का अध्ययन है। ~ कांट

टॉलिमि ने अक्षांश और देशांतर को निर्धारित किया।
सर्वप्रथम एनेक्सिमिंडर ने विश्व मानचित्र मापक पर बनाया।
पृथ्वी को केंद्र मानकर अध्ययन करने वाला भूगोलवेत्ता वारेनियस है।
आधुनिक भूगोल में मानव और वातावरण के पारंपरिक संबंध को दिखलाया जाता है। 18 वीं शताब्दी में जर्मन भूगोलवेत्ता वारेनियस ने भूगोल का क्रमबद्ध अध्ययन किया। इन्होंने भूगोल को दो भागों में बांटा –
  1. सामान्य भूगोल
  2. विशिष्ट भूगोल
सामान्य भूगोल को ही भौतिक भूगोल कहा जाता है। भौतिक भूगोल का संबंध भौतिक वातावरण और परिस्थिति से है। इसके अंतर्गत स्थल जल वायु मंडल से संबंधित कारणों और परिणामों का अध्ययन किया जाता है। इसके समर्थक वारेनियस, इमेल्वेन, कांट और वान हंबोल्ट को माना जाता है।

Post a Comment

0 Comments