चक्रवात और प्रतिचक्रवात | Cyclone and Anti-Cyclones

चक्रवात | Cyclone

चक्रवात की परिभाषा : अस्थिर और परिवर्तनशील हवाओं के वायुमंडलीय भंवर जिसके केंद्र में वायुदाब कम होता है और बाहर की ओर वायु दाब बढ़ता जाता है उसे चक्रवात (Cyclone) कहते हैं। चक्रवात के केंद्र में निम्न वायुदाब क्षेत्र पाया जाता है। केंद्र के बाहर उच्च वायुदाब क्षेत्र पाया जाता है। इनकी दिशा उत्तरी गोलार्ध में एंटी क्लाकवाइज और दक्षिणी गोलार्ध में क्लाकवाइज चलती है। यानी उत्तरी गोलार्ध में बाई और दक्षिणी गोलार्ध में दाईं ओर चलती है। चक्रवात का जलवायु एवं मौसम के निर्धारण में महत्वपूर्ण योगदान रहता है।
Cyclone

चक्रवात दो प्रकार के होते हैं :

  1. शीतोष्ण कटिबंधीय चक्रवात
  2. उष्णकटिबंधीय चक्रवात

शीतोष्ण कटिबंधीय चक्रवात

यह चक्रवात 30° से 60° या 35° से 65° अक्षांश के बीच चलती है। इस चक्रवात के चलने के मार्ग को झंझापथ (Storm track) कहते हैं। शीतोष्ण कटिबंधीय चक्रवात ठंडी तथा शुष्क हवाओं के मिलने से बनता है। चक्रवात की ऊर्जा वायु राशि के घनत्व पर निर्भर करती है।

उष्णकटिबंधीय चक्रवात

यह चक्रवात कर्क एवं मकर रेखा के बीच उत्पन्न होती है। इस चक्रवात से विषुवतीय क्षेत्र में घनघोर वर्षा होती है। क्योंकि विषुवतीय क्षेत्र में वायुदाब निम्न रहता है। उष्णकटिबंधीय चक्रवात समुद्र तट को पार कर पृथ्वी की सतह पर पर आती है तो उसे लैंडफॉल कहते हैं। यह चक्रवात सागर के ऊपर अधिक और स्थल पर कम होता है।
उष्णकटिबंधीय चक्रवात को अलग-अलग देशों में अलग-अलग नामों से जाना जाता है :
  • ऑस्ट्रेलिया व मेडागास्कर – विलीविली
  • हिंद महासागर – साइक्लोन
  • पश्चिमी द्वीप समूह के निकट (कैरेबियन सागर) – हरिकेन
  • चीन जापान फिलिपींस – टायफून
  • दक्षिणी एवं पूर्वी संयुक्त राष्ट्र अमेरिका – टोरनैडो
हरीकेन (Hurricane) – यह मेक्सिको की खाड़ी और कैरीबियन सागर में उत्पन्न सागर में उत्पन्न होती है। इसकी गति 121 किलोमीटर प्रति घंटा होती है। इसके चलने से तड़ित झंझावात के साथ मूसलाधार बारिश होती है।

टाइफून (Typhoon) – इसका मुख्य केंद्र एशिया का दक्षिणी पूर्वी भाग और फिलीपींस द्वीप समूह समूह समूह और फिलीपींस द्वीप समूह समूह भाग और फिलीपींस द्वीप समूह समूह समूह और फिलीपींस द्वीप समूह समूह है। इसकी रफ्तार 160 किलोमीटर प्रति घंटा होती है। यह वक्त गामी कटिबंधीय चक्रवात है।

टोरनैडो (Tornado) – यह सभी तूफानों में सबसे अधिक प्रलयकारी तूफान है। टोरनैडो स्पेनिश भाषा के शब्द टोरेंडा से लिया गया है। इसका आकार कीप जैसा होता है। आकार लघुत्तम लेकिन प्रभाव विनाशकारी होता है। इसकी रफ्तार 325 किलोमीटर प्रति घंटा होती है। इसका उदय अमेरिका में मिसिसिपी घाटी में होता है। यह अल्पकालीन तूफान है।

प्रतिचक्रवात | Anti-Cyclones

हवा के चक्रीय प्रवाह को प्रतिचक्रवात (Anti-Cyclones) कहते हैं। इसके केंद्र में उच्च और केंद्र के बाहर निम्न वायुदाब पाया जाता है। इसकी दिशा अनियंत्रित होती है। वायु का प्रवाह केंद्र से बाहर की ओर होता है। इसके परिधि पर न्यूनतम वायुदाब पाया जाता है। इसकी दिशा उत्तरी गोलार्ध में दाएं और दक्षिणी गोलार्ध में बाई और होती है। यह खासकर उपोष्ण कटिबंधीय उच्च वायुदाब क्षेत्र में अधिक उत्पन्न होता है। इसका क्षेत्र व्यपक होता है।

Post a Comment

0 Comments