राष्ट्र संघ महासभा | United Nations General Assembly

राष्ट्र संघ महासभा | United Nations General Assembly

महासभा को विश्व का लघु संसद कहा जाता है। इसमें प्रत्येक सदस्य देश अपने 5 प्रतिनिधि भेज सकता है पर उस राष्ट्र का वोट से एक ही होता है। यह संयुक्त राष्ट्र संघ का व्यवस्थापिका है। UNO के सभी सदस्य देश इसके सदस्य होते हैं। वर्तमान में 193 देश में सम्मलित हैं। महासभा का अधिवेशन वर्ष में एक बार सितंबर महीने तीसरे मंगलवार को प्रारंभ होता है और दिसंबर के मध्य तक चलता है। यह अधिवेशन न्यूयॉर्क में आयोजित होता है। आपातकाल की स्थिति में सुरक्षा परिषद के सिफारिश पर 24 घंटे के अंदर महासभा बैठक बुला सकती है लेकिन 15 सदस्य देशों में 9 की स्वीकृति आवश्यक है। महासभा के नियमित सत्र के लिए एक अध्यक्ष  21 उपाध्यक्ष और 7 मुख्य समितियों के अध्यक्षों का चुनाव होता है। महासभा के वर्तमान अध्यक्ष Miroslav Lajčák हैं। महासभा की छः आधिकारिक भाषाएं हैं : अरबी, अंग्रेज़ी, चीनी, फ़्रांसीसी, रूसी, स्पेनी।

महासभा के कार्य:

  • सुरक्षा परिषद की 10 अस्थाई सदस्यों को दो तिहाई बहुमत द्वारा चुनना।
  • सुरक्षा परिषद की अनुशंसा पर महासचिव की नियुक्ति करना
  • नए राष्ट्रों को सदस्यता प्रदान करना
  • संघ का बजट पारित करना
  • अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय के न्यायाधीशों की नियुक्ति करना
  • आर्थिक सामाजिक परिषद एवं न्यास परिषद के गठन में हिस्सा लेना आदि

संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations)
सुरक्षा परिषद (Security Council)
आर्थिक एवं सामाजिक परिषद (Economic and Social Council)
न्यासी परिषद (Trusteeship Council)
अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (International Court of Justice)
संयुक्त राष्ट्र सचिवालय (United Nations Secretariat)
संयुक्त राष्ट्र संघ की विशिष्ट अभिकरण व संगठन (United Nations Special Agency and Organizations)